February 11, 2024

कभी मुंबई की चॉल में रहते थे बॉलीवुड के ये स्टार, फिर पलटी किस्मत और बस स्टैंड से मिला मॉडलिंग का ऑफर, साउथ में भी हैं बड़ा नाम
जैकी श्रॉफ को इंडस्ट्री में कई साल हो चुके है और अब भी उनकी फिल्में हिट साबित होती हैं. जैकी श्रॉफ को लोग जग्गू दादा के नाम से पुकारते हैं. जग्गू दादा का ये नाम कैसे पड़ा था इसका उन्होंने खुद खुलासा किया था.

नई दिल्ली: Happy Birthday Jackie Shroff: बॉलीवुड में अपनी एक्टिंग के स्टाइल से अलग पहचान बनाने वाले जैकी श्रॉफ आज अपना 66वां जन्मदिन मना रहे हैं. जैकी श्रॉफ को इंडस्ट्री में कई साल हो चुके है और अब भी उनकी फिल्में हिट साबित होती हैं. जैकी श्रॉफ को लोग जग्गू दादा के नाम से पुकारते हैं. जग्गू दादा का ये नाम कैसे पड़ा था इसका उन्होंने खुद खुलासा किया था. आज हम आपको उनके बर्थडे के मौके पर बताते हैं कि उन्हें जग्गू दादा क्यों कहा जाता था.जैकी श्रॉफ ने सिमी ग्रेवाल को दिए एक इंटरव्यू में जग्गू दादा के पीछे की कहानी बताई थी. उन्होंने कहा था कि उनके बड़े भाई सच में चॉल के दादा थे. दुर्भाग्यवश किसी की जान बचाने के लिए वो समुद्र में चले गए थे और उन्हें तैरना भी नहीं आता था.

इसतरह पड़ा जग्गू दादा नाम
भाई को डूबता देख जैकी ने उन्हें बचाने के लिए केबिल भी फेंकी थी. उन्होंने वो केबिल पकड़ भी ली थी लेकिन वो स्लिप हो गए और डूब गए. भाई का लोगों के लिए प्यार और डेडिकेशन देखकर जैकी श्रॉफ भी उसी रास्ते पर चल पड़े और इस तरह वो जग्गू दादा बन गए. उन्होंने अपने भाई की तरह ही कम्युनिटी के लोगों का ध्यान रखने का फैसला लिया था.

जैकी श्रॉफ को बस स्टैंड पर मिला मॉडलिंग का ऑफर

कई दिनों तक नौकरी की तलाश में भटकने के बाद एक दिन जैकी बस स्टैंड पर बस का इंतजार कर रहे थे, वहां खड़े एक शख्स ने उनकी हाइट देखकर पूछा, ‘क्या आप मॉडलिंग में दिलचस्प है’ और जवाब में जैकी ने कहा, ‘क्या आप पैसे देंगे. बस यहीं से जैकी श्रॉफ की अभिनय पारी शुरू हो गई. जैकी ने साल 1973 में फिल्म हीरा पन्ना से इंडस्ट्री में कदम रखा था. इस फिल्म में उनका नेगेटिव रोल था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *