Web Stories

एनिमल (Animal ) को लेकर कुछ समय पहले शाह रुख खान ने बिना नाम लिए चुटकी ली था। इसके साथ ही उन्होंने नेगेटिव किरदार निभाने पर अपनी राय रखी थी। इस पर अब फिल्म के डायरेक्टर ने रिएक्ट किया है। उन्होंने बिना नाम लिए शाह रुख खान को झाड़ लगाई है।Shah Rukh Khan: एनिमल की आलोचना पर संदीप रेड्डी ने शाह रुख को लगाई झाड़! 'कुत्ते की मौत' वाले बयान का दिया जवाब

एंटरटेनमेंट डेस्क, नई दिल्ली।एनिमल रिलीज के महीनों बाद भी चर्चा में बनी हुई है। फिल्म पहले अपने कंटेंट को लेकर सुर्खियों में थी, वहीं अब डायरेक्टर संदीप रेड्डी वांगा के बयानों की वजह से खबरों में बनी हुई है। इस बार फिल्म से शाह रुख खान का नाम भी जुड़ गया है।एनिमल को लेकर कुछ समय पहले शाह रुख खान ने बिना नाम लिए चुटकी ली था। इसके साथ ही उन्होंने नेगेटिव किरदार निभाने पर अपनी राय रखी थी। इस पर अब फिल्म के डायरेक्टर ने रिएक्ट किया है।

यह भी पढ़ें-Animal के बचाव में संदीप रेड्डी ने नहीं किया था कोई ट्वीट, कहा- ‘मेरी टीम में कुछ तेजस्वी लोग हैं…’

एनिमल पर बोले संदीप रेड्डी संदीप रेड्डी वांगा ने हाल ही में सिद्धार्थ कानन को एक इंटरव्यू दिया। जहां उन्होंने फिल्म को लेकर कई मुद्दे पर बात की। जहां उन्होंने बिना लिया शाह रुख खान को झाड़ भी लगा दी। डायरेक्टर ने एनिमल में रणबीर कपूर के किरदार को बढ़ा- चढ़ा (ग्लोरिफाइड) दिखाने वाले सवाल पर रिएक्ट किया।

संदीप ने ली चुटकी

संदीप रेड्डी वांगा ने कहा, “लोगों को समझ ही नहीं आता है कि ग्लोरिफिकेशन का मतलब क्या होता है। लोगों को लगता है कि अंत में हीरो आएगा और लेक्चर देगा, जहां वो अपनी सारी गलतियां मान लेगा, वो उम्मीद करेंगे कि अब ये कुत्ते की मौत मर जाए। तब लोगों को लगता है कि इसके साथ अच्छा हुआ। तब आप ऐसा करके बस सामने वाले को खुश कर रहे हैं। नॉर्मल लोग तो छोड़िए बड़े- बड़े स्टार्स को भी ये बात समझ नहीं आती।”

यह भी पढ़ें-कंगना रनोट नहीं चाहती Animal डायरेक्टर संदीप रेड्डी उन्हें ऑफर करें रोल, कहा- मैं आई तो आपके अल्फा मेल हीरोज…

क्या बोले थे शाह रुख ?

शाह रुख खान के बयान की बात करें, तो एक्टर ने इवेंट के दौरान नेगेटिव रोल निभाने पर बात की थी। उन्होंने कहा, “मैं ऐसे इंसान हूं तो उम्मीदवान है और लोगों को खुश करने वाली कहानियां सुनाता है। जो हीरो का किरदार मैं निभाता हूं, वो अच्छा काम करते हैं, वो आशा और खुशियां देते हैं। अगर मैं बुरे इंसान का किरदार निभाता हूं, तो मैं ये बात पक्का करुंगा कि वो कुत्ते की मौत मरे, क्योंकि मुझे लगता है कि अच्छाई ही अच्छाई को बढ़ावा देती है और बुराई को एक लात पड़नी चाहिए।”